रहष्यमयी है इस बच्चे का अंधेरे में देखना- गिनिस बुक में दर्ज है नाम

रहष्यमयी है इस बच्चे का अंधेरे में देखना- गिनिस बुक में दर्ज है नाम

जी हाँ दोस्तों, हम आज आपको बता रहे है एक ऐसे बच्चे के बारे में जिसने कई वैज्ञानिकों और डॉक्टरों को काम पर लगा दिया और अपना नाम गिनिस बुक में भी दर्ज करवा चूका है| जी नहीं दोस्तों, उसने कोई ऐसा कारनामा नहीं किया, पर ऊपरवाले ने इसे दिया वो शायद ही किसी को दिया हो|

नोंग यूहुई 
चीन के एक गाँव ग्वाजी में रहने वाले इस बच्चे की आँखें किसी साधारण बच्चे की तरह नीली रंग की है, पर जब अँधेरा होता है तो इसकी आँखें किसी जानवर की तरह चमकने लगती है| हैरान हो गये ना, इसी तरह नोंग के माता-पिता भी हैरान हो गये थे, जब उन्हें इस बात का पता चला| इसीलिए नोंग को गाँव में स्थित डॉक्टर के पास ले गये, पर डॉक्टर ने कहा कि उम्र के बढ़ते इसकी आँखों का रंग अपने आप ठीक हो जायेगा| 
दिन निकलते गये और एक दिन नोंग अपने स्कूल में दिन के वक्त ठीक से ना देख पाने की शिकायत की| नोंग की शिक्षिका ने देखने के लिए जैसे ही उसकी आँखों पर टोर्च की रोशनी दी, तब उसकी चमकती आँखों को देख वह भी चौंक गयी| यही नहीं, योंग की आँखों की जांच जब अंधेरे में की गयी तो और भी चौंकाने वाली बात सामने आयी, योंग अंधेरे में सबकुछ साफ़-साफ़ देख सकता था| इस पर योंग ने बताया कि वह दिन कि अपेक्षा रात में कई ज्यादा स्पष्ट देख सकता है| बस, फिर क्या था, उस दिन के बाद इस लड़के को देखने और इसकी आँखों की जांच करने वाले डॉक्टरों के कतार लगने लगी| जांच में पता चला की योंग बंद कमरे के अंधेरे में या रात के अंधेरे में पढ़ भी सकता है और सबकुछ देख भी सकता है| योंग आज सारी दुनिया में बिल्ली की आँखों वाले के नाम से मशहूर है और अपना नाम भी 'गिनिस बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकार्ड्स' में दर्ज करा चूका है|  

टिप्पणियाँ