रहस्यमयी है यहाँ कुत्तों का आत्महत्या करना

रहस्यमयी है यहाँ कुत्तों का आत्महत्या करना

दोस्तों, हमने अब तक इंसानो के सुसाइड पॉइंट के बारे में तरह तरह के किस्से तो सुने ही है, पर क्या हमने कभी ये सुना है कि कुत्ते भी कभी आत्महत्या कर सकते है?, नहीं ना? तो चलिए आज हम आपको एक ऐसी जगह के बारे में बताने जा रहे है, जहाँ कुत्ते आत्महत्या करते है|
overtoun bridge
ओवरटॉन ब्रिज 
साल १८९५ में एच. ई. मिलनर के द्वारा बनाया हुआ यह ब्रिज स्कॉटलैंड के डम्बर्टन नामक जगह पर स्थित है| यह ब्रिज ६० के दशक में सुर्ख़ियों में आया, जब यहाँ एक एक करके यहाँ के कुत्तों ने आत्महत्या करना शुरू किया था| सिलसिला रुका नहीं और ऐसे यहाँ ६०० से भी ज्यादा कुत्तों ने आत्महत्या कर ली| 
overtoun bridge
बिना किसी कारण के एक ही खास जगह और ब्रिज के एक ही तरफ से कूदने पर कुत्ते करीब ५० फ़ीट गहरे खड्डों में पड़े पत्थरों से टकराकर मर जाते थे और यदि इतनी ऊंचाई से गिरने के बाद भी कोई कुत्ता बच जाता तो वह फिर से ब्रिज पर जाकर दोबारा वहां से कूद कर अपनी जान दे देता था|
इस तरह से लगातार कुत्तों की आत्महत्या करने के बाद ब्रिज पर चेतावनी वाले बोर्ड लगा दिए गये| मगर ऐसा क्या रहस्य है इस पत्तर के ब्रिज में जो इन कुत्तों को आत्महत्या करने पर मजबूर करता है, यह आज तक सुलझ नहीं पाया है| 
overtoun bridge
हद तो तब हो गयी, जब १९९४ में वहां से गुजर रहे केविन मोय नमक व्यक्ति ने अपने दो महीने के बच्चे को ब्रिज की उसी खास जगह से नीचे फेंक दिया और खुद ने भी नीचे कूदने की कोशिश की पर साथ चल रही उसकी डरी हुई पत्नी ने उसे पकड़ कर खींच लिया|
बच्चे की मृत्यु हो गयी और उसका पिता मोय बच तो गया था, पर उनसे दोबारा घर पर चाकू से अपने हाथ की नसें काट ली| कटघरे में मोय ने बच्चे को मारने का कारण उस बच्चे का शैतान होना बताया तो अदालत ने उसे पागल करार कर इलाज के लिए अस्पताल भेज दिया था|
overtoun bridge
इस ब्रिज के बारे में या यहाँ की इन रहस्य्मयी परिस्थितियों के बारे में कई वैज्ञानिक रिसर्च हुए पर आज तक इसके रहस्य का कोई हल नहीं निकल पाया| यहाँ के लोग इसे कुछ बुरी शक्तियों को इसका कारण मानते है|  

टिप्पणियाँ