September 25, 2021

Ajab Gajab – सूरज की रोशनी के लिए बनाया नया सूरज

Ajab Gajab – सूरज की रोशनी के लिए बनाया नया सूरज

जैसा की हम सब यह जानते की हम इंसानो और पृथ्वी पर मौजूद हर जीव के लिए सूरज की रोशनी कितने मायने रखती है। पर, अगर यही रोशनी हमें मिले ही नहीं तो? चलिए जानते है क्या है ये Ajab Gajab मामला?
https://www.ajabjankari.com/2018/05/OMGfacts-ArtificialSunmadeinNorve.html

हम बात कर रहे है नॉर्वे देश के पहाड़ों में स्थित एक छोटे से गाँव रजुकन की। करीब ३५०० से भी ज्यादा परिवारों वाला यह गाँव चारो और से पहाड़ों से घिरा है। साल के १२ महीनो में से ६ महीने जब यहाँ सर्दिया शुरू होती है, तब इस गाँव में सूरज की रोशनी नहीं पहुँचती। https://www.ajabjankari.com/2018/05/OMGfacts-ArtificialSunmadeinNorve.html

इस बारे में १९ वी शताब्ती में एक इंडस्ट्रियलिस्ट सैम इयदे ने सूरज की रोशनी गाँव तक पहुँचाने के बारे में सोचा, मगर उस समय तकनिकी तौर पर यह करना संभव नहीं था। फिर उसने केबल कार का निर्माण किया, जिससे गांववालो विटामिन डी के लिए कुछ ही घंटों में पहाड़ पर ले जाया जाता था।

सूरज की रोशनी गाँव तक पहुँचाने की इस सोच को अंजाम दिया मार्टिन एंडरसन नामक एक व्यक्ति ने, जिसमे $८४९,००० की लागत आयी, जिसके चलते १८३ स्क्वायर फुट के ३ बड़े शीशे पहाड़ के ४३७ यार्ड की ऊचाईं पर लगाये गये, जो कम्प्यूटर्स की मदद से चलाये जाते है।

https://www.ajabjankari.com/2018/05/OMGfacts-ArtificialSunmadeinNorve.html

यह शीशा ६४५९ स्क्वायर फुट के जगह तक सूरज की रोशनी गाँव तक पहुँचता है। इस नकली सूरज की वजह से अब यह गाँव भी पर्यटकों के लिए ख़ास बन गया है।

दोस्तों, आप की इस अजब जानकारी पर क्या प्रतिक्रिया है कृपया कमेंट बॉक्स में लिखकर जरूर बताइयेगा और इसे लाइक और शेयर करना मत भूलियेगा।

Leave a Reply