२५६ साल जीने वाले इस व्यक्ति ने सीखा था मार्शल आर्ट

२५६ साल जीने वाले इस व्यक्ति ने सीखा था मार्शल आर्ट 
दोस्तों, कहा जाता है कि पहले के जमाने में शुद्ध और देशी खान-पान की वजह से लोगों लम्बी जिंदगी जिया करते थे| मगर कितनी लम्बी जिंदगी जिया करते थे? तो लोग इसका जवाब १००, १२० या ज्यादा से ज्यादा १४० तक बताएँगे| लेकिन अगर हम आपको अगर बताएं कि कोई शख्स २५० साल से ज्यादा जिन्दा रहा है तो? हैरान हो गए न दोस्तों, आप सोच रहे होंगे कि कोई शख्स इतने सालो तक कैसे जिन्दा रह सकता है| मगर ये सच है, चलिए जानते है उस शख्स के बारे में|
दुनिया की सबसे मशहूर विकिपीडिया साइट पर एक चीनी व्यक्ति के बारे में यह दावा किया गया है कि वह करीब २५६ साल का होने के बाद मरा था| ऐसा कहा जाता है कि उसने जिन्दा रहने और स्वस्थ रहने के लिए कोई मन्त्र सिख रखा था|
इस धरती पर सबसे ज्यादा जीने वाले इस अनोखे इंसान का नाम ली चिंग यूएन है| इनके बारे में कहा जाता है कि ७१ साल की उम्र में ये सेना में शामिल हुए थे और मार्शल आर्ट भी सीखा था| इसके साथ ही ली चिंग एक आयुर्वेद के डॉक्टर भी थे और इन्होंने जीने का मन्त्र सीख लिया था और हमेशा निरोगी और फिट रहते थे|
कहा जाता है कि ली चिंग अपने जीवनकाल में कुल २३ पत्नियों का अंतिम संस्कार कर चूका था| साल १९३० में
न्यूयॉर्क टाइम्स और टाइम पत्रिका में एक चीनी इतिहासशास्त्री वू चुंग चिए का इंटरव्यू छापा गया था जिसमे साल १८२७ में चीन के शाही सरकार द्वारा ली चिंग को उनके १५० वे जन्मदिन की बधाई दी गयी थी| इसके अलावा साल १८७७ में ली चिंग के २०० साल पूरा होने पर दिए गए बधाई के कागजात भी जारी किये गए थे|  
६ मई १९३३ को जब ली चिंग की मृत्यु हुई तब उनकी उम्र करीब २५६ साल की थी| जीवन के ४० साल सिर्फ जड़ी बूटी के सहारे जीने वाले ली चिंग की २४ शादियों से करीब २०० बच्चे हुए थे|

टिप्पणियाँ