१५०० खंभों पर टिका हुआ है ये अद्भुत प्राचीन मंदिर

१५०० खंभों पर टिका हुआ है ये अद्भुत प्राचीन मंदिर

दोस्तों, हमारे भारत में विभिन्न जाती-प्रजाति के लोग एक ही धरती पर मिलजुल के अपना जीवन व्यतीत करते है और अपने-अपने धर्मों का पालन भी करते है| देश में कई ऐसे प्राचीन मंदिर-मस्जिद-गुरूद्वारे और चर्च है, जिनकी बनावट और कलाकृति देखकर आज भी लोग दंग रह जाते है| आज हम आपको ऐसे ही एक प्राचीन मंदिर के बारे में बताने जा रहे है, जो सच में अद्भुत है| 
राजस्थान के उदयपुर जिले से करीब १०० किलोमीटर की दूरी पर रणकपुर नामक जगह पर एक जैन मंदिर है| इस मंदिर की नक्काशी और कलाकृति देखकर हर इंसान मंत्रमुग्ध हो जाता है| सबसे ख़ास बात यह है कि यह मंदिर १५०० खंभों पर टिके होने के कारण आज पूरी दुनिया में मशहूर हो गया है| 
इस मंदिर का निर्माण १५ वीं शताब्दी में राणा कुंभा के शासनकाल में हुआ था| राणा कुंभा के ही नाम पर इस जगह का नाम रणकपुर पड़ा था| बेहद ख़ूबसूरती से तराशे गए इस मदिर की बात ही निराली है, जिसे देखने का सुख आँखों को प्रतीत होता है| 
इस मंदिर के अंदर जाते ही इन हजारों खंभों पर नक्काशी देखने में बेहद ही खूबसूरत दिखाई पड़ती है और ख़ास बात यह है कि मंदिर के किसी भी खंभे से जहां से भी नज़र जायेगी आपको मुख्य मूर्ति के दर्शन मिल जाएंगे| इतना ही नहीं इसके अलावा मंदिर में कई तहखानों को भी बनवाया गया है, ताकि संकट के समय तहखानों में पवित्र मूर्तियों को सुरक्षित रखा जा सके| 
जैन धर्म के पांच प्रमुख मंदिरों में से एक ये मंदिर है| इसके मुख्य गृह में तीर्थकर आदिनाथ की संगमरमर की बनी चार मूर्तियां भी है| इस मंदिर में ७६ छोटे गुम्बदनुमा पवित्र स्थान, चार बड़े प्राथना कक्ष और चार बड़े पूजन स्थल भी है| इस मंदिर की खूबसूरत नक्काशी और कलाकृति को देखने दूर-दूर से कई पर्यटकों का आना-जाना लगा रहता है|
दोस्तों, अगर आपको हमारी यह जानकारी अच्छी लगी हो तो कृपया इसे लाइक और शेयर जरूर करें और कमेंट बॉक्स में इसके बारे में अपनी प्रतिक्रिया जरूर दीजियेगा| 

टिप्पणियाँ