आखिरी दिनों में ठेले पर गया था इस अभिनेत्री का शव

आखिरी दिनों में ठेले पर गया था इस अभिनेत्री का शव 

दोस्तों, वैसे तो जिंदगी हर इंसान को बहुत से रंग दिखाती है और बॉलीवुड की चकाचौंध से तो हर कोई वाकिफ है। बाहर से तो ये दुनिया बेहद खूबसूरत लगती है, लेकिन इसके अंदर की सच्चाई बहुत कड़वी होती है। परदे के पीछे की ऐसी बहुत सी कहानिया है जो बहुत कम लोगों तक पहुंच पाती है। ऐसी ही एक दर्दनाक और हैरान कर देने वाली कहानी आज हम आप तक पंहुचा रहे है। 
tragic-story-of-bollywood-stars
ये कहानी है ६० के दशक की खूबसूरत अभिनेत्रियों में से एक अभिनेत्री की, जिसका नाम विमी है। अफ़सोस की बात यह है कि इस खूबसूरत अदाकारा ने महज ३३ साल की उम्र में इस दुनिया को छोड़ दिया था। साल १९४३ में जालंधर, पंजाब में जन्मी विमी को बचपन से ही एक्टिंग का बहुत शौक था। मगर पहले उन्होंने अपनी पढाई पूरी की और पढाई पूरी करने के बाद वह शादी के बंधन में बांध गयी। विमी ने कोलकाता के एक कारोबारी शिव अग्रवाल के साथ शादी की थी। 
tragic-story-of-bollywood-stars
एक पार्टी के दौरान विमी की मुलाकात संगीतकार रवि के साथ हुई थी, जिसने उन्हें मुंबई बुलाया था और मुंबई आते ही विमी की किस्मत खुल गयी। उस समय के जाने-माने निर्माता-निर्देशक बीआर चोपड़ा ने उन्हें अपनी फिल्म हमराज का ऑफर दे दिया। अपनी पहली ही फिल्म में विमी ने सुनील दत्त और राजकुमार जैसे बड़े कलाकारों के साथ काम किया। यह फिल्म बेहद कामयाब रही और विमी रातों-रात मशहूर हो गयी। विमी के पति एक कोलकाता के बड़े व्यापारी थे और उनके पास पैसों की कोई कमी नहीं थी। फ़िल्में वे केवल अपना शौक पूरा करने के लिए करती थी। 
tragic-story-of-bollywood-stars
जैसा की आप सब भी जानते है कि फिल्मों में सफलता को बनाये रखना बेहद मुश्किल होता है। फिल्मों के अलावा विमी की निजी जिंदगी भी थी, जिसमें कुछ समय बाद दरार आ गयी और बात तलाक पर आकर ख़त्म हो गयी। अपने पति से लव मैरिज करने की वजह से विमी के मां और पिता ने भी उनसे रिश्ता तोड़ लिया था। विमी अकेली पड़ गयी और फिल्मों की नाकामयाबी की वजह से उन्हें आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ा और उन्होंने शराब पीना शुरू कर दिया। 
tragic-story-of-bollywood-stars
ऐसे में विमी को सहारे की जरुरत थी तो उन्होंने फिल्मों में काम दिलाने वाले एक ब्रोकर जॉली से दोस्ती कर ली थी, जॉली की कोशिशों के बावजूद उन्हें फिल्मों में काम नहीं मिला और इसी वजह से विमी बिलकुल टूट गयी और पहले से ज्यादा शराब पीने लगी और वो भी बेहद सस्ती शराब। जिसकी वजह से विमी के लीवर ने भी काम करना बंद कर दिया।
tragic-story-of-bollywood-stars
२२ अगस्त १९७७ के दिन आखिरकार विमी ने नानावटी अस्पताल के जनरल वार्ड में अपनी जिंदगी की आखिरी सांस ली। दुःख की बात तो ये थी कि विमी की मौत के बाद उनके शव को कांधा देने वाला भी कोई नहीं था और जिस रास्ते पर एक समय विमी अपनी आलिशान गाड़ियों में घुमा करती थी, उसी रास्ते से उनके शव को एक ठेले पर रखकर शमशान तक ले जाया गया और अग्नि के हवाले कर दिया गया था। 
tragic-story-of-bollywood-stars
दोस्तों, आदमी के साथ उसका ख़त्म किस्सा हो गया, आग ठंडी हो गयी, चर्चा भी ठंडा हो गया। आज इस अदाकारा को बहुत कम लोग याद करते है। अगर आपको हमारी यह जानकारी 'आखिरी दिनों में ठेले पर गया था इस अभिनेत्री का शव' अच्छी लगी हो तो कृपया इसे लाइक और शेयर जरूर कीजियेगा और कमेंट बॉक्स में इस पर अपनी प्रतिक्रिया जरूर दीजियेगा।

टिप्पणियाँ