March 8, 2021

इस मंदिर में तेल से नहीं पानी से जलता है दिया

दोस्तों, वैसे तो देवी-देवताओं और मंदिरों से जुड़े कई चमत्कारों के बारे में आपने सुना होगा, लेकिन एक ऐसा मंदिर भी है जहाँ पानी से दिया जलाया जाता है| ये कोई कहानी नहीं, बल्कि हकीकत है| आइये जानते है इसके बारे में|

ajab-jankari-ghadiyaghat-mata-temple

गाडियाघाट माता मंदिर

मध्य्प्रदेश के ‘शाजापुर’ में स्थित काली सिंध नदी के तट पर बना हुए मंदिर में जलने वाला दिया जिसकी ज्योति पानी के द्वारा ही जलायी जाती है| इस मंदिर में दिए में घी या तेल इस्तेमाल नहीं किये जाते बल्कि पानी डालकर भगवान के सामने दिया जलाया जाता है| मध्य्प्रदेश के इस मंदिर को गड़ियाघाट माता के मंदिर के नाम से जाना जाता है|
इस मंदिर में जलने वाली ज्योति पिछले ५ सालों से पानी के माध्यम से निरंतर जल रही है और जैसे ही दीये में पानी ख़त्म होने लगता है, मंदिर का पुजारी कालीसिंध नदी का पानी दीपक में डाल देता है| दीये में पानी डालते ही वो काला चिपचिपा तरल पदार्थ बन जाता है और दीपक जल उठता है|

इस मंदिर में होने वाले इस चमत्कार को देखने के लिए कई लोग आते है और अपना सर श्रद्धाभाव से झुकाते है| मंदिर के पुजारी के अनुसार इस मंदिर में बहुत समय पहले तेल का दीपक जला करता था, लेकिन मंदिर के पुजारी को माता ने स्वप्न में पानी से दिया जलाने को कहा, तब से इस मंदिर में दिए को पानी से ही जलाया जाता है|
दोस्तों, अगर आपको हमारी यह जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे शेयर और लाइक जरूर कीजियेगा और कमेंट बॉक्स में इसके बारे में लिखकर लोगों को भी जरूर बताइयेगा| 

Leave a Reply