श्राप की वजह से संजीव कुमार रह गए थे कुंवारे

दोस्तों, संजीव कुमार ने बॉलीवुड की फिल्मों में इतने किरदार निभाए है, जिसे कर पाना हर किसी के बस की बात नहीं है। संजीव कुमार अपने करियर में एक अभिनेत्री के हीरो, पिता, ससुर और पति भी बने। उस अभिनेत्री का नाम है जया भादुरी। 
ajab-janakari-sanjeev-kapoor-family-curse-in-which-his-family-every-man-dead-in-just-50-years-of-birth
असल जिंदगी में संजीव कुमार एक पिता और पति के किरदार को जीने के लिए जीवनभर तरसते रहे। उनकी निजी जिंदगी में कई सारी लड़किया और कई सारी अभिनेत्रियां भी आयी, मगर बात शादी तक नहीं पहुंच पायी।
ajab-janakari-sanjeev-kapoor-family-curse-in-which-his-family-every-man-dead-in-just-50-years-of-birth
मशहूर वेबसाइट लहरें के मुताबिक संजीव कुमार के परिवार को ये श्राप था कि परिवार का बड़ा बेटा जब दस साल का होता है तो पिता की मौत हो जाती है और ऐसा संजीव कुमार के दादा, पिता, चाचा और भाई के साथ भी हुआ था। इसी श्राप के डर से संजीव कुमार पूरा जीवन अविवाहित रहे थे।
ajab-janakari-sanjeev-kapoor-family-curse-in-which-his-family-every-man-dead-in-just-50-years-of-birth
फिल्म जगत में संजीव, हेमा मालिनी पर जी जान से फ़िदा थे, मगर शादी का नाम आते ही वो डर जाया करते थे। ठीक ऐसे ही सुलक्षना पंडित से भी उनका प्यार श्राप की वजह से शादी तक नहीं पहुंच पाया।
ajab-janakari-sanjeev-kapoor-family-curse-in-which-his-family-every-man-dead-in-just-50-years-of-birth
असल में संजीव कुमार जन्मजात ह्रदय रोग से पीड़ित थे और इसी खानदानी बीमारी की वजह से इनके परिवार के कई सदस्य ५० की उम्र भी पार ना कर सके। संजीव कुमार को भी ६ नवंबर १९८५ के दिन एक बड़ा हार्ट अटैक आया और उनकी मृत्यु हो गयी थी। उस समय संजीव की उम्र भी महज ४७ वर्ष की थी। संजीव कुमार से पहले उनके छोटे भाई निकुल की मृत्यु हो गयी, जबकि उनके दूसरे भाई किशोर की छह महीने के बाद मृत्यु हुई थी। 
ajab-janakari-sanjeev-kapoor-family-curse-in-which-his-family-every-man-dead-in-just-50-years-of-birth
बता दें कि संजीव कुमार के अभिनय में बनी उनकी दस फ़िल्में उनकी मृत्यु के बाद रिलीज़ हुई थी, जिनमें से एक 'प्रोफ़ेसर की पड़ोसन' नामक फिल्म तो साल १९९३ में रिलीज़ हुई थी। संजीव ने अपने जीवनकाल के छोटे से सफर में अपने अभिनय को जितना भी समय दिया, उतने में ही वो कई कलाकारों के लिए एक मिसाल बन गए थे।
ajab-janakari-sanjeev-kapoor-family-curse-in-which-his-family-every-man-dead-in-just-50-years-of-birth
दोस्तों, अगर आपको हमारी यह जानकारी 'श्राप की वजह से संजीव कुमार रह गए थे कुंवारे' अच्छी लगी हो तो कृपया इसे लाइक और शेयर जरूर कीजिएगा और कमेंट बॉक्स में इसके बारे में अपनी प्रतिक्रिया जरूर दीजियेगा। 

टिप्पणियाँ