ऐसा करने पर आशुतोष राणा पर भड़के थे महेश भट्ट, निकलवा दिया था सेट से बाहर

दोस्तों, अपने अभिनय के दम पर फ़िल्मी दुनिया में अपनी एक अलग पहचान रखने वाले आशुतोष राणा का जन्म १० नवम्बर १९६४ के दिन मध्यप्रदेश के छोटे से गांव नरसिंघपुर में हुआ था। आशुतोष ने कभी सोचा नहीं था कि वो कभी फिल्मों में काम करेंगे। 
ajab-jankari-when-ashutosh-rana-was-carried-out-of-the-set-by-mahesh-bhatt
शुरुवाती शिक्षा करते हुए बचपन में रामलीला नौटंकी में 'रावण' की भूमिका किया करते थे। अपने हिन्दू गुरु 'पंडित देव प्रभाकर शास्त्री जी' को अपना प्रशंसक मानने वाले आशुतोष ने इन्हीं के सुझाव के कारण फिल्मों में काम करने का फैसला लिया था। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक आशुतोष एक दिन महेश भट्ट से मिलने गए थे। मगर महेश भट्ट ने उन्हें अपने सेट से बाहर निकलवा दिया था। 
ajab-jankari-when-ashutosh-rana-was-carried-out-of-the-set-by-mahesh-bhatt
आशुतोष से जब इस बारे में पुछा गया था तो उन्होंने बताया था कि जब वो महेश भट्ट से मिलने गए थे तो भारतीय परंपरा के अनुसार उनके पांव छुए थे। जिसकी वजह से महेश भट्ट भड़क गए थे क्यूंकि उन्हें पैर छूने वाले पसंद नहीं थे। 
ajab-jankari-when-ashutosh-rana-was-carried-out-of-the-set-by-mahesh-bhatt
आशुतोष ने ये भी बताया था कि उसके बाद भी जब भी वो महेश भट्ट से मिलने जाते तो उनके पैर छू लेते थे और महेश भट्ट फिर गुस्सा हो जाते थे। वैसे ही एक दिन महेश भट्ट ने आशुतोष से पूछ ही लिया कि मना करने के बावजूद भी क्यों पैर छूटे हो? तो इस पर आशुतोष ने महेश भट्ट से कहा कि बड़ों के पैर छूना उनके संस्कार है और वो ये छोड़ नहीं सकते। इस जवाब से खुश होकर महेश भट्ट ने आशुतोष को अपने टेलीविज़न सीरियल 'स्वाभिमान' में पहला रोल दिया था। 
ajab-jankari-when-ashutosh-rana-was-carried-out-of-the-set-by-mahesh-bhatt
इसके बाद आशुतोष राणा को असली पहचान भी महेश भट्ट की फिल्म 'दुश्मन' से मिली, जिसमें उन्होंने एक 'सायको किलर' की भूमिका निभाई थी। इतना ही नहीं महेश भट्ट की ही फ़िल्में 'दुश्मन' (१९९९) और 'संघर्ष' (२०००) के लिए आशुतोष को खलनायक के किरदार के लिए 'फिल्मफेयर' अवार्ड भी मिले।  
ajab-jankari-when-ashutosh-rana-was-carried-out-of-the-set-by-mahesh-bhatt
बॉलीवुड को सारांश, अर्थ, सड़क, आशिकी, डैडी, नाम, दिल है कि मानता नहीं, हम है रही प्यार के, क्रिमिनल और जख्म जैसी बेहतरीन फ़िल्में देने वाले महेश भट्ट ने ९० के दशक के आखिरी में डायरेक्शन छोड़ दिया था। मगर अब फिर एक बार अपनी सुपरहिट फिल्म 'सड़क' के सीक्वल के साथ वापसी कर रहे है। 
ajab-jankari-when-ashutosh-rana-was-carried-out-of-the-set-by-mahesh-bhatt
दोस्तों, अगर आपको हमारी यह जानकारी 'ऐसा करने पर आशुतोष राणा पर भड़के थे महेश भट्ट, निकलवा दिया था सेट से बाहर' अच्छी लगी हो तो कृपया इसे लाइक और शेयर जरूर कीजियेगा और कमेंट बॉक्स में इसके बारे में अपनी प्रतिक्रिया जरूर दीजियेगा।

टिप्पणियाँ