November 25, 2020

क्या सरकार जिम्मेदार थी राज कपूर की मौत के पीछे

राज कपूर जिनको भारतीय सिनेमा का ‘शोमैन’ कहा जाता है। हिंदी सिनेमा के एक जाने माने अभिनेता, निर्माता और निर्देशक थे। मगर बॉलीवुड ने ये सितारा महज ६३ साल उम्र में इस दुनिया को अलविदा कह दिया था। भले ही उनकी मौत अस्थमा की बीमारी के चलते हुई थी, मगर कहीं न कहीं इनकी मौत के पीछे सरकार को भी जिम्मेदार माना जाता है।

bollywood-ke-kisse-Was-the-government-responsible-for-Raj-Kapoor-death

हिंदी सिनेमा के इस शोमैन का निधन जिन हालातों में हुआ उससे ये कहा जा सकता है कि उनकी मौत समय से पहले हुई। अगर ये कहा जाय कि केंद्र सरकार के प्रोटोकॉल के चलते  कपूर साहब  का निधन हुआ तो ये गलत नहीं होगा। 

हिंदी सिनेमा को बहुत सी नायाब फ़िल्में देने वाले राज कपूर अपने आखिरी समय में अस्थमा की बीमारी से पीड़ित थे। जिस समय वो अपनी आखिरी फिल्म ‘हीना’ की शूटिंग में व्यस्त थे, उन्हें केंद्र सरकार की तरफ से ‘दादासाहेब फाल्के अवार्ड’ से सम्मानित किया गया था। 

bollywood-ke-kisse-Was-the-government-responsible-for-Raj-Kapoor-death

इस अवार्ड को लेने के लिए राज साहब  खुद अपने परिवार को लेकर दिल्ली पहुंचे थे। दिल्ली आने के बाद उनकी अस्थमा की बीमारी ने ज्यादा जोर पकड़ लिया था और इसी वजह से राज कपूर अपना ऑक्सीजन सिलेंडर साथ में रखा करते थे। 

गुरुदत्त की आत्महत्या के बाद शराब ने छीन ली गीता दत्त की जिंदगी, सदमे से नहीं उभर पायी कभी 

अवार्ड लेने गए राज कपूर को राष्ट्रपति भवन में सुरक्षा के कारणों के चलते अपना ऑक्सीजन सिलेंडर को बाहर ही छोड़ना पड़ा था। ऐसा कहा जा सकता है कि राज कपूर ने अपना सिलेंडर ही नहीं बल्कि अपनी जीवन की डोर भी बाहर ही छोड़ दी थी। 

bollywood-ke-kisse-Was-the-government-responsible-for-Raj-Kapoor-death

‘दादासाहेब फाल्के अवार्ड’ का समारोह शुरू हुआ और राज साहब दर्शकों के बीच बैठे थे। उन्हें काफी समय से असहज महसूस हो रहा था। राष्ट्रपति के आर नारायण के भाषण के बीच राज कपूर को अस्थमा का दौरा पड़ा। ऐसे में राष्ट्रपति अपना भाषण छोड़ स्टेज से नीचे उतरे और राज कपूर को दादा साहब फाल्के अवार्ड से सम्मानित किया। मगर तब तक बहुत देर हो चुकी थी। 

राज कपूर को तुरंत दिल्ली के ‘एम्स हॉस्पिटल’ में भर्ती किया गया, मगर कुछ दिनों तक हॉस्पिटल में इलाज के बावजूद इन्हें बचाया नहीं जा सका और आखिरकार २ जून १९८८ के दिन बॉलीवुड के शोमैन राज कपूर ने इस दुनिया को अलविदा कह दिया। 

bollywood-ke-kisse-Was-the-government-responsible-for-Raj-Kapoor-death

अगर अवार्ड समारोह के दौरान राज कपूर को अपना ऑक्सीजन सिलेंडर अपने साथ रखने की इजाजत मिली होती तो शायद राज कपूर साहब बच जाते। मगर ये हो ना सका। 

दोस्तों, अगर आपको हमारी यह जानकारी अच्छी लगी हो तो कृपया इसे लाइक और शेयर जरूर कीजियेगा और कमेंट बॉक्स में इसके बारे में अपने प्रतिक्रिया जरूर दीजियेगा।

दुनिया की कुछ ऐसी अजब गजब रोचक जानकारी जो शायद ही आपको पता होगी | Fact from around the world that you wont believe.

अमिताभ बच्चन ने शत्रुघ्न सिन्हा की तब तक की थी पिटाई जब तक बचाने नहीं आये शशि कपूर 

कभी अभिनेत्री तब्बू की साड़ियां प्रेस किया करते थे निर्देशक रोहित शेट्टी, ३५ रूपये से ३०० करोड़ तक ऐसे तय किया सफर 

अनिल कपूर को हीरो बनने के लिए लेने पड़े थे पैसे उधार, इन दोनों कलाकारों ने की थी मदद

जब जया बच्चन को डॉक्टरों ने अमिताभ से आखिरी बार मिल लेने को कहा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *