April 17, 2021

120 Saalon Se Giraftaar Hai Ye Ped , जंजीरों में है जकड़ा हुआ

जहाँ गिरफ्तारी की बात आती है तो दिमाग में कोई इंसान ही पहले आता है, मगर किसी पेड़ को कोई कैसे गिरफ्तार कर सकता है? आज हम आपको एक ऐसे पेड़ के बारे में बताने जा रहे है जिसे पिछले 120 Saalon Se Giraftaar कर जंजीरों से जकड़ा हुआ है|

under-arrest-tree-from-120-years-in-pakistan-120 Saalon Se Giraftaar Haiपाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा में स्थित बरगद का यह पेड़ पिछले 120 सालों से गिरफ्तारी में है| यह पेड़ लांडी कोतल आर्मी में लगा है| साल 1898 में गिरफ्तार किये गए इस पेड़ की कहानी मजेदार होने के साथ-साथ हैरान कर देने वाली है|

under-arrest-tree-from-120-years-in-pakistan-120 Saalon Se Giraftaar Hai

एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक़, एक दिन ब्रिटिश अफसर जेम्स स्क्वेड इस जगह पर टहल रहे थे| जेम्स ने शराब पी रखी थी और शराब के नशे में चूर जेम्स जब इस बरगद के पेड़ के पास से गुजरे तो उन्हें लगा कि वह बरगद का पेड़ उनकी ओर बढ़ रहा है| जिसकी वजह से जेम्स को पेड़ से दर लगने लगा|

under-arrest-tree-from-120-years-in-pakistan-120 Saalon Se Giraftaar Haiअपने डर की वजह से जेम्स ने वहां मौजूद अपने सैनिकों को इस पेड़ को गिरफ्तार करने का आदेश दे दिया| सैनिकों ने जेम्स की बात मानी और इस बरगद के पेड़ को जंजीरों से बांधकर गिरफ्तार कर लिया| उसी वक्त से अब तक यह पेड़ जंजीरों में जकड़ा हुआ है| यह पेड़ अब लोगों के लिए एक टूरिस्ट डेस्टिनेशन बन गया है|

under-arrest-tree-from-120-years-in-pakistan

दोस्तों, अगर आपको हमारी यह पोस्ट ‘120 Saalon Se Giraftaar Hai Ye Ped , जंजीरों में है जकड़ा हुआ, जंजीरों में है जकड़ा हुआ’ अच्छी लगी हो तो कृपया इसे लाइक और शेयर जरूर करें और कमेंट बॉक्स में इसके बारे में लिखकर लोगों को भी जरूर बताएं|

दुनिया की कुछ ऐसी अजब गजब रोचक जानकारी जो शायद ही आपको पता होगी | Fact from around the world that you wont believe.

७ अजूबों में शामिल करने लायक है ये जगहें – फिर भी नहीं है शामिल

गूगल में काम करने का लोग देखते है सपना, मरने के बाद भी मिलती है सैलरी

दुनिया का सबसे मीठा फल जो डाइबिटीज वालों के लिए है वरदान

अद्भुत है ये गुलाबी रंग की झील, जानिये क्या है इसका रहस्य

Leave a Reply