July 29, 2021

बटवारे में टॉस जीतकर भारत ने जीती थी पकिस्तान से ये बग्घी

बटवारे में टॉस जीतकर भारत ने जीती थी पकिस्तान से ये बग्घी

अक्सर खेल के मैदान में टॉस करके किसी फैसले को हमने कई बार देखा होगा| मगर आज हम आपको ऐसी बग्घी के बारे में बताने जा रहे है जिसे भारत ने पकिस्तान से बटवारे में टॉस जीतकर हासिल किया था| चलिए पूरा किस्सा जानते है|
India-won-this-president-buggy-from-Pakistan-after-winning-the-toss-in-the-partitionसाल 1947 में अंग्रेजों से आज़ादी मिलने के बाद अखंड भारत को दो भागों में विभाजित किया गया था| इस विभाजन में भारत और पाकिस्तान के बीच जमीन से लेकर सेना तक हर चीज का बंटवारा हुआ था| जिसमे राष्ट्रपति की सुरक्षा में तैनात रहने वाली गवर्नर जनरल बोडीगार्ड्स रेजिमेंट भी शामिल थी|
India-won-this-president-buggy-from-Pakistan-after-winning-the-toss-in-the-partition
वैसे तो इस रेजिमेंट का बंटवारा 2:1 के अनुपात में शांतिपूर्वक हो तो गया, मगर रेजिमेंट की बग्घी को लेकर दोनों देशों में बात अटक गयी| ऐसे में राष्ट्रपति की सवारी वाली इस बग्घी का फैसला सिक्का उछालकर करने की बात आयी, जिसमे भारत ने टॉस जीत लिया और ये बग्गी भारत की हो गयी|
India-won-this-president-buggy-from-Pakistan-after-winning-the-toss-in-the-partition
26 जनवरी 1950 को देश का संविधान लागू होने के बाद सबसे पहले भारत के पहले राष्ट्रपति डॉ. राजेंद्र प्रसाद ने गणतंत्र दिवस के मौके पर इस बग्घी का इस्तेमाल किया था| बाद में भी कई बार इस बग्घी का इस्तेमाल भारतीय राष्ट्रपतियों द्वारा किया गया|
India-won-this-president-buggy-from-Pakistan-after-winning-the-toss-in-the-partition
साल 1984 में भारत की तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की मृत्यु के बाद सुरक्षा कारणों की वजह से इस बग्घी के इस्तेमाल को बंद कर दिया गया और राष्ट्रपति बुलेट प्रूफ गाड़ियों में आने लगे|
India-won-this-president-buggy-from-Pakistan-after-winning-the-toss-in-the-partition
भारत के 13 वे राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने 30 साल बाद बग्घी में बैठने की प्रथा को फिर से एक बार शुरू किया इसके बाद से अब तक इस प्रक्रिया को जारी रखा गया है|
India-won-this-president-buggy-from-Pakistan-after-winning-the-toss-in-the-partition
दोस्तों, अगर आपको हमारी यह जानकारी अच्छी लगी हो तो कृपया इसे लाइक और शेयर जरूर कीजियेगा और कमेंट बॉक्स में इसके बारे में अपनी प्रतिक्रिया जरूर व्यक्त कीजियेगा|

Leave a Reply