October 22, 2021

भारत में स्थित इस मंदिर में चोरी करने से पूरी होती है सारी इक्षाएं

भारत में स्थित इस मंदिर में चोरी करने से पूरी होती है सारी इक्षाएं

हमारे देश में बचपन से ही हर बच्चे को ये सिखाया जाता है कि चोरी करना पाप होता है और चोरी करने वाले को कानून सजा देता है| लेकिन आज हम आपको एक ऐसे मंदिर के बारे में बताने जा रहे है जहाँ चोरी करना न तो पाप होता है और न ही इसके लिए कोई सजा मिलती है| कहते है इस मंदिर में चोरी करने से मन की मुराद पूरी होती है|

Stealing-in-this-temple-located-in-India-fulfills-all-desires
जी हाँ दोस्तों, हमारे भारत में Uttarakhand के रुड़की के चुड़ियाला गाँव में एक प्राचीन मंदिर है जिसका नाम चूड़ामणि मंदिर है| आमतौर पर मंदिर में जाने वाले भक्त अपनी श्रद्धा के अनुसार मंदिर में चढाने के लिए नारियल और हार-फूल लेकर जाते है| मगर इस मंदिर में लोग चोरी करने जाते है|

बांग्लादेश से भी ज्यादा इस अकेले इंसान के पास है 110 Fighter Jet

आपको बता दें कि इस मंदिर में चोरी करने के बाद किसी को जेल की या किसी भी प्रकार की कोई सजा नहीं होती है| यहाँ चोरी करने वाले लोग आस्था के नाम पर चोरी करते है| यहाँ के लोगों का मानना है कि चोरी करने से उनकी सभी इक्षाएं पूरी हो जाती है|
Stealing-in-this-temple-located-in-India-fulfills-all-desires
दरअसल, मान्यता के अनुसार जिन दम्पत्तियों को संतान प्राप्ति की चाह होती है, वे दंपत्ति इस मंदिर में माता के दर्शन के लिए आते है| माता की मूर्ती के पास एक लकड़ी का गुड्डा रखा हुआ होता है, जो दंपत्ति को चुराकर ले जाना होता है| मनोकामना पूरी होने बाद इस दंपत्ति को अपने संतान के साथ फिर से इस मंदिर में आकर भंडारा करना होता है और साथ ही लकड़ी का गुड्डा चढ़ाना होता है|
स्थानीय लोगों के मुताबिक इस मंदिर का निर्माण साल 1805 में लंढौरा रियासत के राजा ने कराया था| कहा जाता है कि जब राजा यहाँ के जंगल में शिकार के लिए आये थे तो उन्हें माता की पिंडी के दर्शन हुए थे| राजा की कोई संतान नहीं थी तो राजा ने माता से पुत्रप्राप्ति का वरदान माँगा था| मन्नत पूरी होने पर राजा ने इस मंदिर का निर्माण करवाया था|
दोस्तों, अगर आपको हमारी यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो कृपया इसे लाइक और शेयर करें और कमेंट बॉक्स में इसके बारे में लिखकर लोगों को भी बताएं|

Leave a Reply