December 7, 2022

भारत में स्थित ये है लंका मीनार , जहाँ भाई-बहन नहीं जा सकते एकसाथ

भारत में स्थित ये है लंका मीनार , जहाँ भाई-बहन नहीं जा सकते एकसाथ

हमारे देश में ऐसे कई धार्मिक स्थल है जहाँ जोड़ियों में दर्शन के लिए जाना होता है| जैसे महाराष्ट्र के शनि-शिंगणापुर में मामा और भांजे की जोड़ी जाए तो शुभ रहता है, ऐसी मान्यता है| भारत में ऐसी भी एक जगह है जिसे लंका मीनार के नाम से जाना जाता है, जहाँ हर कोई जा सकता है, मगर सगे भाई-बहन एक साथ नहीं जा सकते है|
omg-facts-lanka-meenar-in-india-लंका मीनार

यूपी के जालौन में स्थित 210 फ़ीट ऊंची लंका मीनार है| जिसमे रावण के पूरे परिवार का चित्रण किया गया है| इस मीनार का निर्माण मथुरा प्रसाद ने कराया था जो एक समय में रामलीला में रावण के किरदार को दर्शकों के सामने पेश किया करते थे| मथुरा प्रसाद के अंदर रावण का किरदार इस कदर बस गया था कि उन्होंने रावण की याद में लंका का निर्माण ही कर डाला|

साल 1875 में मथुरा प्रसाद निगम ने रावण की स्मृति में यहाँ 210 फ़ीट ऊंची मीनार का निर्माण कराया था, जिसे उन्होंने लंका का नाम दिया| इस मीनार को बनाने में सींप, उड़द की दाल, शंख और कौड़ियों का इस्तेमाल किया गया है और इसे बनाने में करीब 20 साल का समय लगा था|

omg-facts-lanka-meenar-in-india-लंका मीनार

उस समय इस मीनार के निर्माण में करीब 1 लाख 75 हजार रूपये की लागत आयी थी| स्वर्गीय मथुरा प्रसाद न केवल रामलीला का आयोजन करते थे, बल्कि स्वयं इस किरदार को भी दर्शकों के सामने जिवंत करते थे| इनके साथ रावण की पत्नी मंदोदरी का किरदार घसीटाबाई नामक एक मुस्लिम महिला निभाती थी|

omg-facts-lanka-meenar-in-india-लंका मीनार

इस जगह पर 65 फ़ीट की मेघनाथ की प्रतिमा के साथ 100 फ़ीट के कुम्भकरण की भी प्रतिमा है| वहीँ मीनार के सामने भगवान चित्रगुप्त और भगवान शंकर की मूर्ति है|

मंदिर का निर्माण इस तरह कराया गया है कि रावण अपनी लंका से भगवान शिव के 24 घंटे दर्शन कर सकता है| परिसर में 180 फ़ीट लम्बे नाग देवता और 95 फ़ीट लम्बी नागिन गेट पर विराजमान है, जो मीनार की रखवाली करते है|

भारत में स्थित ये है लंका मीनार , जहाँ भाई-बहन नहीं जा सकते एकसाथ

नाग पंचमी के अवसर पर यहाँ भव्य मेले का आयोजन किया जाता है और दंगल भी लगता है| आपको बतादें कि कुतुबमीनार के बाद यही मीनार भारत की सबसे ऊंची मीनारों में शामिल है|

खास बात यह है यहाँ एक मान्यता है कि भाई-बहन इस जगह पर एक साथ नहीं जा सकते है| इसका कारण ये है कि लंका मीनार के नीचे से ऊपर तक चढ़ते समय सात परिक्रमाएं करनी होती है, जो भाई-बहन नहीं कर सकते| ये सात फेरें केवल पति-पत्नी द्वारा मान्य माने गए है| इसी वजह से भाई-बहन का एक साथ यहाँ जाना वर्जित है|

दोस्तों, अगर आपको हमारी यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो कृपया इसे शेयर और लाइक जरूर कीजियेगा और कमेंट बॉक्स में लिखकर इसके बारे में लोगों को भी बताइयेगा|

दुनिया की कुछ ऐसी अजब गजब रोचक जानकारी जो शायद ही आपको पता होगी |  Fact from around the world that you wont believe.

दुनिया के सबसे खतरनाक स्विमिंग पूल

गजब है, ये पुलिसवाला पहनता है १९ नंबर के जूते

ये है वो अजीब जानवर जिनका जिक्र नहीं मिलता किताबों में

दुनिया में सबसे महंगा, ७५ करोड़ रुपये लीटर बिकता है बिच्छू का जहर

Leave a Reply