March 1, 2024

वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने के चक्कर में हुए थे यहां कई हादसे

दुनिया में कई ऐसे लोग है जिन्होंने अपना नाम वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज कराने के लिए कई ऐसे हैरतअंगेज कारनामे किये है, जिन्हें देखकर कई दफा हम आश्चर्यचकित रह जाते है| मगर आज हम आपको एक ऐसे हादसे के बारे में बताने जा रहे है जो वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने के चक्कर में घटित हुआ था और जिसकी वजह से कई हादसे भी हुए थे|

ajab-jankari-ajab-gajab-hillenium-Cleveland-Balloonfest-of-1986-वर्ल्ड रिकॉर्ड

गुब्बारों से भला किसी को क्या नुकसान हो सकता है? इन्हें देखकर हर किसी इंसान का मन खुश हो जाता है| मगर साल १९८६ में इन्हीं गुब्बारों की वजह से संयुक्त राष्ट्र के ‘ओहायो’ नामक क्षेत्र के ‘क्लीवलैंड’ शहर में परेशानी खड़ी कर दी थी|

ajab-jankari-ajab-gajab-hillenium-Cleveland-Balloonfest-of-1986-वर्ल्ड रिकॉर्ड

बता दें कि साल १९८६ में एक चैरिटी संस्था ने एक बेहतरीन मेले का आयोजन करने का निर्णय लिया| जिसके लिए पूरा क्लीवलैंड जोश में था| डिजनीलैंड की ३० वीं वर्षगाँठ पर छोड़े गए गुब्बारों का वर्ल्ड रिकॉर्ड तोड़ने के चक्कर में क्लीवलैंड के वासियों ने एक साथ २ मिलियन हीलियम से भरे गुब्बारे आसमान में छोड़ने का लक्ष्य रखा और इसी के चलते करीब २५०० लोगों ने रातभर गुब्बारे फुलाने का काम किया| 

127 साल पहले चट्टान काटकर बनाया गया था यह Jahaaj Mahal

ajab-jankari-ajab-gajab-hillenium-Cleveland-Balloonfest-of-1986-वर्ल्ड रिकॉर्ड

शनिवार, २७ सितम्बर साल १९८६ को एक आंधी-तूफ़ान के साथ आयोजकों ने गुब्बारों को छोड़ने का फैसला किया| मौसम के ख़राब होने की वजह से उन्होंने केवल १.५ मिलियन गुब्बारे ही आसमान में छोड़े गए, मगर अचानक हुई बारिश ने उस खूबसूरत नज़ारे को एक बुरे सपने में बदल दिया|

Sleeping Village – कजाखस्तान गाँव – रहस्यमयी गाँव जहाँ महीनों सोते है लोग

बारिश और ख़राब मौसम की वजह से ये गुब्बारे जमीन की ओर वापस आने लगे, जिसकी वजह से कई हादसे हुए| बुर्के लेकफ्रंट एयरपोर्ट को गुब्बारे के उतरने के बाद आधे घंटे के लिए बंद करना पड़ा| 
ajab-jankari-ajab-gajab-hillenium-Cleveland-Balloonfest-of-1986-वर्ल्ड रिकॉर्ड

ट्रैफिक में टकराव की भी रिपोर्ट की गयी| दो मछुआरों, रेमंड ब्रोडरिक और बर्नार्ड सुल्जर, जो २६ सितम्बर को बाहर चले गए थे, उनके परिवार द्वारा इस घटना के दिन लापता होने की सुचना दी गयी थी| बचावकर्मियों के हेलीकाप्टर चालक दल को लापता हुए क्षेत्र तक पहुंचने में कठिनाइयों का सामना करना पड़ा| 

ajab-jankari-ajab-gajab-hillenium-Cleveland-Balloonfest-of-1986

झील में गुब्बारों की वजह से नाविकों की खोज तैराकियों के लिए असंभव बन गयी|अगले दिन इन दोनों मछुआरों के मृत शरीर पाए गए|

ajab-jankari-ajab-gajab-hillenium-Cleveland-Balloonfest-of-1986

मछुआरों की पत्नियों में से एक ने यूनाइटेड वे ऑफ़ क्लीवलैंड और उस कंपनी पर मुकदमा दायर किया| केवल इन्होंने ही नहीं बल्कि नुकसान झेलने वाले कई लोगों ने इस कंपनी पर मुक़दमे दायर किये| आखिरकार साल १९८८ में गिनिस बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड ने अपनी किताब में १४,२९,६४३ गुब्बारों को लॉन्च करने के वर्ल्ड रिकॉर्ड को मान्यता दी|

ajab-jankari-ajab-gajab-hillenium-Cleveland-Balloonfest-of-1986

दोस्तों, अगर आपको हमारी यह जानकारी अच्छी लगी हो तो कृपया इसे लाइक और शेयर जरूर कीजियेगा और कमेंट बॉक्स  में इसके बारे में अपनी प्रतिक्रिया जरूर दीजियेगा|    

दुनिया की कुछ ऐसी अजब गजब रोचक जानकारी जो शायद ही आपको पता होगी | Fact from around the world that you wont believe.

गड़ियाघाट माता मंदिर – इस मंदिर में तेल से नहीं पानी से जलता है दिया

भोजेश्वर मंदिर – अधूरे निर्मित मंदिर में है दुनिया का सबसे विशालकाय शिवलिंग

कलावंती किला – ये है भारत का सबसे खतरनाक किला

Coober Pedy – जमीन के नीचे बसा है ये गाँव, जो है बेहद खूबसूरत

अजीब है Duniya Ke Sabse Chote आकार के ये जानवर

Leave a Reply