मेंढक की पूजा की जाती है इस प्राचीन मंदिर में

भारत में ऐसे कई मंदिर है जहाँ जानवरों की पूजा की जाती है| लेकिन कोई मेंढक की भी पूजा कर सकता है ऐसा शायद ही किसी ने सोचा होगा| तो चलिए आज हम आपको बताते है ऐसे ही भारत के एकमात्र मंदिर के बारे में जहाँ मेंढक की पूजा की जाती है|

ajan-jankari-weird-frog-temple-in-india-मेंढक की पूजा

भारत का यह एकमात्र मेंढक मंदिर उत्तरप्रदेश के ‘लखीमपुर-खीरी’ जिले के ‘ओयल’ कस्बे में स्थित है| जो लखनऊ एयरपोर्ट से करीब १३५ कि.मी. की दुरी पर है|
ajan-jankari-weird-frog-temple-in-india-मेंढक की पूजा

बताया जाता है कि यह मंदिर लगभग २०० साल पुराना है| ऐसी मान्यता है कि सूखे और बाढ़ जैसी प्राकृतिक आपदाओं से बचने के लिए इस मंदिर का निर्माण करवाया गया था|
ajan-jankari-weird-frog-temple-in-india-मेंढक की पूजा
यह जगह ओयल शैव संप्रदाय का प्रमुख केंद्र थी और यहाँ के शासक भगवान् शिव के उपासक थे| इस कस्बे के बीच मंडूक यंत्र पर आधारित प्राचीन शिव मंदिर भी है|
ajan-jankari-weird-frog-temple-in-india
यह क्षेत्र ११ वी शताब्दी से १९ वी शताब्दी तक चाहमान शासकों के अधीन रहा है| चाहमान वंश के राजा बक्श सिंह ने ही इस अद्भुत मंदिर का निर्माण कराया था|

ajan-jankari-weird-frog-temple-in-indiaइस मंदिर की वास्तु परिकल्पना कपिला के एक महान तांत्रिक ने की थी| तंत्रवाद पर आधारित इस मंदिर की वास्तु संरचना अपनी विशेष शैली के कारण लोगों का मन मोह लेती है| मेंढक मंदिर में दीपावली के अलावा महाशिवरात्रि पर भी भक्त बड़ी संख्या में आते है|

ajan-jankari-weird-frog-temple-in-india

दोस्तों, अगर आपको हमारी यह जानकारी अच्छी लगी हो तो कृपया इसे लाइक और शेयर जरूर कीजियेगा और कमेंट बॉक्स में इसके बारे में लिखकर अपनी प्रतिक्रिया जरूर दीजियेगा।

दुनिया की कुछ ऐसी अजब गजब रोचक जानकारी जो शायद ही आपको पता होगी | Fact from around the world that you wont believe.

भारत में यहाँ स्थित है जुड़वा लोगों का गाँव

चाँद बावड़ी – सच में अदभुद है यह बावडी

गजब है, ये पुलिसवाला पहनता है १९ नंबर के जूते

यहाँ स्थित है दुनिया का पहला पांच सितारा अंडर ग्राउंड होटल

Leave a Reply